शिक्षित बेरोजगार इंजीनियरों की पंजीकरण सीमा 50 लाख से बढ़ाकर 1.5 करोड़ रुपए की गई -चंद्रकांत पाटिल

नागपुर : महाराष्ट्र के लोक निर्माण मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने विधान परिषद को बताया है कि बेरोजगार इंजीनियरों को अधिक नौकरियां मिल सकें, इसके लिए उनकी पंजीकरण सीमा 50 लाख से बढ़ाकर 1.5 करोड़ रुपये कर दी गई है।

सदस्य सतीश चव्हाण ने इस बारे में सवाल उठाए थे। उसके जवाब में, श्री पाटिल ने कहा कि शिक्षित बेरोजगार इंजीनियरों को न्याय दिलाने के लिए 33 प्रतिशत शिक्षित बेरोजगार इंजीनियरों, 33 प्रतिशत श्रम संगठनों और 33 प्रतिशत पंजीकृत संगठनों को शिक्षित बेरोजगार इंजीनियरों को नौकरियां दी जाएंगी। इसके अलावा, शहरी विकास विभाग में भी ये पैटर्न लागू करने पर विचार किया जाएगा, ये जानकारी श्री पाटिल ने दी।

इस चर्चा में विरोधी पक्ष के नेता धनंजय मुंडे, सदस्य श्री श्री सुनील तटकरे, प्रवीण दरेकर ने हिस्सा लिया।