पालघर : शिवसेना के खिलाफ राणे करेंगे भाजपा का प्रचार

मुंबई : पालघर लोकसभा उपचुनाव में शिवसेना के खिलाफ प्रचार करने के लिए भाजपा ने सांसद नारायण राणे को कहा है। राणे को प्रचार करने का अनुरोध खुद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने किया है।

मुख्यमंत्री फडणवीस का अनुरोध स्वीकारते हुए राणे प्रचार के लिए जाने वाले है ऐसा बोला जा रहा है।

बीजेपी ने स्वाभिमानी पार्टी के नेता नारायण राणे को राज्यसभा सांसद बनाया। राणे और शिवसेना पहले से ही शत्रु हैं। सांसद बनने के बाद पहली बार बीजेपी ने राणे को शिवसेना के खिलाफ प्रचारकार्य के लिए न्यौता दिया है।

चिन्तामणराव वनगा के निधन के बाद पालघर लोकसभा की सीट खाली हुई थी। जिसके बाद कई नाटकीय घटनाओं के बाद वनगा परिवार ने शिवसेना में प्रवेश किया था। शिवसेना ने चिंतामन वनगा के बेटे श्रीनिवास वनगा को उम्मीदवारी दी है।

भाजपा ने कांग्रेस से आये राजेंद्र गावित को उम्मीदवारी दी है। ओर कांग्रेस से दामोदर शिंगड़ा ने नामांकन दाखिल किया है।

पालघर के चुनाव पर सभी राजनीतिक दलों की नजर लगी है। इसलिए भाजपा ने राणे को प्रचार के मैदान उतारकर एक नई राजनितिक निति का इस्तेमाल किया है।

दूसरी तरफ बीजेपी के मुंबई अध्यक्ष आशीष शेलार ने शिवसेना को चुनौती दी है।

‘कर्नाटक में जीते है, मतदाताओं का धन्यवाद। “आता भंडारा जिंकू ‘ठोकून’ आणि पालघर जिंकू ‘ठासून’… ” ऐसा ट्वीट आशीष शेलार ने किया है। इसलिए आशीष शेलार ने सीधे शिवसेना को ही चुनौती दी है।

पालघर में, शिवसेना ने श्रीनिवास वनगा को लोकसभा उप-चुनाव की उम्मीदवारी देने के लिए भाजपा ने निराशा व्यक्त की थी। हालांकि, शिवसेना अपने फैसले पर दृढ़ रही।