मल्टिप्लेक्स में खाद्य पदार्थो को एमआरपी पर बेचना आश्वयक ; रविंद्र चव्हाण

नागपुर : आपकोमल्टिप्लेक्स / सिनेमाघरों में आप बाहर से खाने के लिए ज्यादा पैसे नहीं देने होंगे। राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण ने शुक्रवार को नागपुर में चल रहे मॉनसून सत्र में इस बात की जानकारी दी। उन्होंने सदन को बताया कि 1 अगस्त से सिनेमाघरो के लिए खाद्य पदार्थो को एमआरपी पर बेचना आश्वयक कर दिया गया है। किसी भी खाद्य पदार्थ के लिए एमआरपी से ज्यादा पैसे नहीं लिए जा सकते है। इसके साथ ही उन्होने यह बताया कि सिनेमाघरो में बाहर का खाना लेकर जाने पर किसी भी तरह की कोई भी पाबंदी नही होगी और रोकने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी

– हाईकोर्ट ने भी लगाई है फटकार
– बॉम्बे हाईकोर्ट ने भी सिनेमाघरों को खाद्य पदार्थो के मंहंगे दामों को लेकर फटकरा लगाई थी और साथ ही कहा था        कि इनके दाम करने चाहिए।

मल्टिप्लेक्स 
सिनेमाघरों में महंगे खाने और पानी का राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना कई महीनों से विरोध कर रही है। पुणे में तो एक सिनमा घर में तोड़फोड़ और मैनेजर संग मारपीट भी की गई थी। पार्टी ने सिनेमाघरों के मालिको को चेतावनी भी दी है कि अगर खाद्य पदार्थो के दाम कम नहीं किए गए तो मनसे स्टाइल में फिर से आंदेलन किया जाएगा। इस आंदोलन के बाद सिनेमाघरो के मालिको ने राज ठाकरे से मुलाकात की थी और उसने दामों को कम करने के लिए थोड़ा सा समय मांगा था।