बड़े बेटे को उपमुख्यमंत्री बनाओ : देवगौड़ा

- कांग्रेस-जेडीएस डील में बढ़ रही उलझनें

नई दिल्ली : पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस अध्यक्ष एचडी देवगौड़ा अपने बड़े बेटे एचडी रावन्ना को कर्नाटक का उपमुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं. उनकी इस इच्छा ने जेडीएस और कांग्रेस के बीच चल रहे सत्ता के जोड़-तोड़ में नया पेंच डाल दिया है.

कर्नाटक में कांग्रेस खुद सरकार बना नहीं सकती लेकिन, भारतीय जनता पार्टी की सरकार नहीं बननी चाहिए इसलिए उसने अपनेसे कम सिटें जितनेवाली जेडीएस को मुख्यमंत्रीपद तक देने की घोषणा कर दी. लग रहा था की कांग्रेस की भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से दूर रखने की राजनीति सफल हो जाएगी. लेकिन कांग्रेस के कुछ विधायकों ने पार्टी के इस निर्णय का विरोध कर पार्टी का सिरदर्द बढ़ा दिया. उसी समय कांग्रेस और जेडीएस, दोनों को ही अपने विधायकों को अपने साथ बनाए रखने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है. उसमें अब एचडी देवगौड़ा की बड़े बेटे को उपमुख्यमंत्री बनाने की चाहत ने दोनों को उलझन में दाल दिया है. कांग्रेस-जेडीएस, इस घोषित गटबंधन में अगर कांग्रेस उससे कम विधायकों की संख्यावाले जेडीएस को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री, दोनोंभी पद देती है तो राजनीति में उसकी स्थिति हास्यास्पद हो जाएगी.

उल्लेखनीय है की, कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों में से 222 पर चुनाव हुए थे, जिसमें बीजेपी को 104, कांग्रेस को 78, जेडीएस को 38 और अन्य को दो सीटें मिली हैं. देखें, आगे क्या होता है .