किरण रेड्डी की कांग्रेस में वापसी

नई दिल्ली: चार वर्ष बाद आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन किरण कुमार रेड्डी ने फिर से कांग्रेस में वापसी की हैं। 2014 लोकसभा चुनाव से ठीक पहले रेड्डी ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। और नई पार्टी ‘जय समैक्यांध्र’ बना ली थी। जो लोकसभा चुनाव में शून्य पर सिमट गई थी। मुख्यमंत्री रेड्डी आंध्र प्रदेश से अलग तेलंगाना राज्य बनाने को लेकर केंद्र की अपनी ही सरकार के फैसले का विरोध कर रहे थे। संसद में भारी हंगामे के बाद भी कांग्रेस की तत्कालीन यूपीए सरकार ने तेलंगाना को अलग राज्य का दर्जा नहीं दिया। इसी वजह से रेड्डी समेत पार्टी से कई नेता अलग हो गए।

जगनमोहन रेड्डी वाईएसआर कांग्रेस प्रमुख राज्यभर का दौरा कर रहे हैं। टीडीपी इसी आधार पर केंद्र की मोदी सरकार से अलग हुई हैं। वहीं कांग्रेस भी लगातार मोदी सरकार पर दबाव डाल रही हैं। एन किरण कुमार रेड्डी शुरुआती दौर से आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने की मांग करते रहे हैं। एक बार फिर अब कांग्रेस में वापस आए है। कांग्रेस रेड्डी के सहारे फिर चुनाव में मजबूती से उतरेगी। वही रेड्डी के छोटे भाई किशोर कुमार कुछ महीने पहले टीडीपी में शामिल हो गए थे। इससे चुनाव जीतने के आसार बढ़ जाते हैं।