मुंबई में कोलीवाड़ा की सीमा निश्चित करने के बारे में छह माह में निर्णय – चंद्रकांत पाटील

नागपुर : महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटील ने आज विधान परिषद को बताया कि मुंबई में कोलीवाडे, गावठान और आदिवासी पाडे की सीमा निश्चित करने और उसी अनुसार इन इलाक़ों का पुनर्विकास करने के बारे में फ़ैसला छह महीने के अंदर ले लिया जाएगा।

सदस्य किरण पावसकर ने विधान परिषद में यह मुद्दा उठाया और सवाल पूछे। उनका उत्तर देते हुए श्री पाटील ने कहा कि मुंबई शहर व मुंबई उपनगर के कोलीवाड़ा का प्रत्यक्ष सर्वेक्षण करके सीमा निर्धारित करने के लिए आवश्यक कार्यपद्धति और इसके लिए गाइड निश्चित करने के लिए 20 नवम्बर 2012 के सरकार के निर्णय के अनुसार समिति गठित की गई है। इस समिति ने वर्ष 2015 से 17 के दौरान स्थल का दौरा करके कोळीवाडा प्रत्यक्ष मुआयना करके स्थल निरीक्षण की रिपोर्ट 2 मई 2016 और 1 जनवरी 2017 के घोषणापत्र में सरकार के सामने प्रस्तुत किया है।

इस संबंध में आगे की कार्रवाई की जा रही है। संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के आदिवासी पात्र अतिक्रमण पीडितों के पुनर्वास के लिए उचित कार्रवाई के लिए प्रस्ताव संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के मुख्य वनरक्षक और संचालक द्वारा सरकार के समक्ष प्रस्तुत किया गया है और पुनर्वास का प्रस्ताव उचित कार्यवाही के लिए स्लम पुनर्वास प्राधिकरण के निदेशक को प्रस्तुत किये जाने की बात श्री पाटिल ने बताई।

इस चर्चा में विरोधी पक्ष के नेता धनंजय मुंडे, सदस्य श्री प्रवीण दरेकर, निरंजन डावखरे, भाई जगताप ने हिस्सा लिया।