प्लास्टिक उपयोग के संदर्भ में उद्यमियों द्वारा सूचित पर्यायों पर अभ्यास करने के लिए समिति का गठन

मुंबई : प्लास्टिक का उत्पादन, उपयोग और नष्ट करने के संदर्भ में उद्यमियों द्वारा सूचित किए गए पर्यायों पर अभ्यास करने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सचिव स्तर की एक समिति का गठन किया है.

आज मंत्रालय में प्लास्टिक उद्यमियों की बैठक में प्लास्टिक का उपयोग और नष्ट करने के संदर्भ में चर्चा हुई. इस दौरान उद्योगमंत्री सुभाष देसाई, पर्यावरण मंत्री रामदास कदम, शिवसेना युवा नेता आदित्य ठाकरे उपस्थित थे.

सचिव स्तर की समिति में मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव प्रविण सिंह परदेशी, पर्यावरण विभाग के अपर मुख्य सचिव सतीश गवई, उद्योग विभाग के अपर मुख्य सचिव सुनिल पोरवाल और प्रदूषण नियंत्रण मंडल के सदस्य सचिव डॉ. पी. अनबलगन का समावेश है. यह समिति उद्यमियों द्वारा प्रस्तुतिकरण द्वारा रखे मुद्दों का अभ्यास कर प्लास्टिक बंदी के लिए सरकार द्वारा नियुक्त की शक्ति प्रदत्त समिति को (High power Committee) अपना रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी.

आरंभ में प्रस्तुतिकरण द्वारा प्लास्टिक उद्यमी समिति के पदाधिकारियों ने प्लास्टिक का रिसाइकलिंग, उससे तैयार होनेवाली वस्तुओं, प्लास्टिक कचरे का निपटारा, प्लास्टिक एकत्रित करने की पद्धति, जनता का सहभाग, जनजागृति, सरकार को किया जानेवाला सहयोग आदि संदर्भ में जानकारी दी. इस समय प्लास्टिक उद्योग के कई उद्यमी उपस्थित थे.