कांग्रेस के बाद अब भाजपा की इफ्तार दावत

नई दिल्ली : भाजपा ने मुस्लिम महिलाओं के लिए एक विशेष इफ्तार दावत का आयोजन किया है। यह दावत खासतौर पर मुस्लिम महिलाओ के लिए हैं। दावत में शामिल ज्यादातर महिलाएं तीन तलाक पीड़िताएं हैं। केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने इसकी घोषणा की है। सूचना के अनुसार यह सब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के कहने पर किया जा रहा है।

पहली बार भाजपा इतने बड़े स्तर पर ऐसे कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है। कांग्रेस की भी यह परंपरा रही है। लेकिन इस परंपरा पर 2015 में विराम लग गया था। उस व़क्त उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव थे। लेकिन इस साल राहुल गांधी ने दोबारा इस परंपरा को शुरू करते हुए, सभी विपक्षी दलों को एक मंच पर आने के लिए आमंत्रित किया है।

इस कुप्रथा के ख़िलाफ सरकार ने एक विधेयक भी लाया था । जिसे लोकसभा से तो पारित किया जा चुका है, लेकिन राज्यसभा में यह अब भी अटका पड़ा है।भाजपा इस कार्यक्रम के ज़रिए इसी मुद्दे को उठाना चाहती है। हाल ही में नकवी ने अपने एक बयान में कहा था कि कांग्रेस और उसके कुछ साथियों ने जानते हुए भी इस विधेयक को राज्यसभा में पारित नहीं होने दिया। हमारा प्रयास रहेगा कि आने वाले सत्र में हम इसे पारित करवा लें। आज होने जा रहे इस कार्यक्रम में करीबन 100 मुस्लिम महिलाओं को आमंत्रित किया गया है। जिनमें अधिकतम तीन तलाक पीड़िताएं हैं।